What is Recession in Stock Market ? How to Invest Your Money in Recession ?

recession

शेयर बाजार में मंदी क्या है? मंदी में अपना पैसा कैसे निवेश करें?

Recession को हम आसान भाषा में समझेंगे जिसे कोई बच्चा भी आसानी से समझ ले

Recession क्या है ?

Recession उसे कहते है जब सभी लोग पैसा कम खर्च करते है
और इसीलिए जब पैसा कम खर्च करते है तो सभी कंपनी के प्रोडक्शन और Demand काफी कम हो जाता है और Profit लागातार कम होता जाता है और सभी सामानों के दाम भी कम हो जाता है और कंपनी को मजबूरी में Employees को निकालना पड़ता है ।

वापिस से जब Recession खत्म होता है तब फिर से कंपनी में Employees की Hiring होती है । जिसे फिर Production बढ़ता है सामानों के Price बढ़ते है । लोग जादा से जादा खर्च करते है ।

2022 और 2023 यूरोप –

यूरोप में Recession और Inflation ( महंगाई ) काफी तेजी से बढ़ रहा है जिसका प्रभाव पूरी दुनिया में पड़ने वाला है । क्योंकि यूरोप में सभी देश काफी तरक्की कर ली जहा की Economy काफी मजबूत है । इसीलिए अगर यहां Recession और Inflation आता है तो इसका असर बाकी के Country पर भी पड़ेगा ।

इसीलिए अगर आप Stock Market में Short term Investor है तो आपको Stock Market से दूर रहना चाहिए ।

अगर आप Long Term Investor तो आपके लिए एक Opportunity है आप अपने Invest किए हुए Stock को Average कर सकते है । जिसे आपको Long Term में जादा Profit हो।

Recession में आप Safe Investment जगह ढूंढे जहा आपका पैसा Secure रहे और आपको 7 से 8% आसानी से मिल जाए जैसे – Gold , Bonds या Real Estate ।

Recession जब आता है तो इसका Effect पूरी दुनिया में पड़ता है जहा सभी Company के शेयर Price काफी नीचे आ जाता है ऐसा इसीलिए होता है लोग बहुत जादा पैनिक हो जाते है और डरकर अपने शेयर्स को बेचने लगते है जिसकी वजह से शेयर्स का Price लगातार गिरता जाता है ।

इन्ही Emotion को हमे कंट्रोल करना है और सही Decision लेना है । हमे Stock को कब Buy और Sell करना चाहिए ये हमे पता होना चाहिए ।

Stocks को बेचने का सबसे अच्छा समय Bull Run में होता है जब Almost सभी कंपनी के शेयर Overvalued होते हैं जो कभी न कभी जरूर नीचे आयेंगे । जब भी शेयर Overvalued हो उस समय आपको शेयर को बेच देना चाहिए । अगर आप एक Short term Investor है तो ।

और शेयर को Buy करने का सबसे अच्छा समय तब होता है जब Market Crash , Recession या Inflation चल रहा हो और इस समय आपको सभी शेयर काफी Discount पर मिलते है तो उसी समय किसी अच्छे कंपनी में Invest करना चाहिए।

जब भी Stock में Invest करे खुद से Research जरूर करे कही से भी Tips, Telegram, WhatsApp या किसी वीडियो को देखकर Influence न हो । इसे क्या होगा आपको अपने आप पर Confidence होगा और अगली बार खुद से Research करेंगे।

हमेशा उसी Stock में इन्वेस्ट करे जिस कम्पनी को आप बचपन से जानते होंगे जैसे – Dabur का Honey , Lux का साबुन जो Lux Industry बनाती है , Hindustan Unilever ऐसे बहुत सारे कंपनी है जिनका नाम शायद आपने जरूर सुना या देखा होगा Ad या उस Product का प्रयोग किया होगा ।

ये सभी कम्पनी आज भी Profitable है और अब भी कमा रही है और अभी तक Exist करती है ।

देखो दोस्तो Recession , Dipression , Inflation, या Market Crash हमेशा आता रहेगा लेकिन आपको इसे डरना नहीं है बल्कि आपको इसको एक मौके की तरह देखना चाहिए और सही समय पर Invest करना चाहिए। जिसे आप एक अच्छा प्रॉफिट कमा पाए।

अच्छे Stock का Price बहुत कम नीचे आता है क्योंकि लोग बहुत कम उस Stock को बेचते है । जिसकी वजह से उस Stock का प्राइस नीचे नही आता है ऐसे समय में अगर आपको ऐसा कोई Stock मिलता हो तो आप उस Stock में Invest कर सकते है ।

जब भी Market Crash या Recession से गुजर रहा हो तो आप Stock में SIP ( Systematic Investment Plan) कर सकते है और थोड़े थोड़े Quantity में Stock को Buy कर सकते है ।

SIP एक अच्छा तरीका है Stock Market में Invest करने का लेकिन बहुत से लोग होते है जो एक ही बार में Stock में Invest कर देते है और फिर जब Market down खुलता है फिर वो Stock और नीचे हो जाता है इसीलिए SIP का तरीका सही होता है थोड़े थोड़े Quantity में Buy करना लेकिन कंपनी Fundamentally Strong हो और उस Buisness को आप अच्छी तरह समझते हो ।

Bull Run में अपने पैसों को कभी भी पूरा Invest न करे या फिर Bull Run में करे ही न हमेशा Liquid Cash बचाकर रखे क्योंकि जब जब Bull Run चल रहा होता है तब उस समय सभी Stocks Overvalued होते जाते है जिसे एक Bubble form होता है जो कभी न कभी फट जाता है ।

जितना मार्केट नीचे जाए उतना खरीदे लेकिन थोड़े थोड़े Quantity में । Beginners को हमेशा Undervalued Stock में ही Invest करना चाहिए।

Recession में लगभग सभी स्टॉक Undervalued और कुछ तो Intrinsic Value से भी कम हो जाते है जो Investor के लिए बहुत सही समय होता है इन्वेस्ट करने के लिए ।

Beginners हमेशा Bull Run में अपने पैसे को Invest करते और जब Market Crash हो जाता तो पैनिक होकर Sell करने लगते है लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए यहा पर आप अपने स्टॉक को Average भी कर सकते है । जिसे Rupee Cost Averaging भी बोलते है ।

अगर आप एक Long Term Investor है तो आपको किसी भी Situation से डरना नहीं है बल्कि और इन्वेस्ट करना है और Opportunity का फायदा उठाना चाहिए ।

Beginners हमेशा कम Price वाला Stocks को ढूंढते है जैसे किसी Penny Stock में Invest करते और फिर Loss हो जाता है तो Stock Market को बुरा भला बोलते या Gambling का नाम दे देते है ।

अगर आप एक अच्छा Investor बनना चाहते है तो आपको Daily Stock Market से Related किताबे, Podcast, Youtube या फिर Stock Market से Related Blogs भी पढ़ सकते है । जिसे आप और Stock Market के बारे में जान पाए और इसके Psychology और Emotion को समझ सके ।

जब आपके पास Knowledge होगा तब आप सही Investment Decision ले पाएंगे और आप अपने Emotions को Control कर पाएंगे अपने Stock को कब Buy और Sell करना है ये सब जान पाएंगे ।

अगर आप Beginners है तो Trading को Avoid कीजिए ।
Trading सीखना चाहते है तो पहले कुछ महीने पेपर ट्रेडिंग कीजिए फिर जब आपको Confidence आ जाए तब थोड़े पैसे से आप Trading कर सकते है ।

Trading करना आसान नहीं होता है क्योंकि बहुत सारे लोग Trading में पैसा Lose कर देते है सिर्फ कुछ ही लोग Stock से पैसा बना पाते है । 99% लोग अपना पैसा इस लिए Lose कर देते है क्योंकि इनको अपना Emotion और लालच Control नही होता है ।

जैसे – मान लीजिए आप ट्रेडिंग कर रहे है और आपको 500 रुपए Profit हो रहा है तो आप सोचेंगे थोड़ा और Profit हो जाए फिर Exit कर लूंगा फिर कुछ देर बाद देखेंगे आपको 300 रुपए Loss होने लगे है और फिर आप सोचेंगे किसी तरह प्लस में आ जाए फिर मैं Exit कर लू । दोस्तो इसी तरह के Emotions और लालच हमारे मन में आते रहेंगे जिसे हमे Control करना सीखना होगा ।

Investing बहुत कम लोग कर पाते है लेकिन जो लोग धैर्य और अपने Emotions को Control पाते है वही लोग Investing सीख पाते है और Long Term में पैसे कमा पाते है ।

बहुत कम लोग Stock Market से पैसा बना पाते है जिनका डर और लालच पर पूरा Control होता है । Investing का सही मतलब है पैसे को Quality और Fundamentally Strong कंपनी में पैसे को Invest करना है और भूल जाना है ।

तभी आपके Invest किए हुए Stock में पैसा बन पाता है आपको Compounding Effect देखने को मिलता है और आपका पैसा तेजी से Grow करता है।

Risk profiling क्या होता है ?

Risk profiling का मतलब है आप कितना रिस्क लेना चाहते है

Emergency fund को तैयार करना – Emergency fund हर किसी के पास होना चाहिए ताकि Covid –19 जैसे Situation में हमारे पास इतना फंड होना चाहिए की पूरा साल अच्छे से चल पाए । या फिर आपका Job चली जाए तब भी आप कुछ महीने आपका घर आसानी से चल जाए जिसे आपको कोई लोन या उधार न मांगना पड़े ।

हमेशा अपने Monthly Salery का जादा से जादा हिस्सा Emergency fund में रखे ।

अब सवाल ये आता है Emergency fund कहा रखे ?

Emergency fund उस जगह रखना चाहिए जहा से आप आसानी से पैसे को निकाल सके जैसे बैंक में उसमे आप FD भी कर सकते है जहा आपको 6 percent के आस पास Interest भी मिल जायेगा ।

आपको अपने पैसे को कुछ Amount घर में भी रखना चाहिए ताकि उसका आप इस्तेमाल जल्द से जल्द कर पाए । ( In case of emergency)

दूसरी तरीका ये है कि आप अपना और अपने परिवार का Insurance जरूर कराएं क्योंकि Insurance बहुत होता है । किसी Reason की वजह से आपके कमाने वाले व्यक्ति को कुछ हो जाता है तो Insurance से मिलने वाले पैसे से आप अपने परिवार का खर्चा चला सकते है ।

अगर आप Insurance नही कराते तो आपके पूरे परिवार को Financially संघर्ष करना पड़ेगा । मैं यह Insurance Company का प्रचार नही कर रहा है मैं सिर्फ वही चीज बता रहा हु जो भविष्य में हो सकते है ।

आपने देखा होगा आजकल के सभी Vehicles Insurance के साथ बिकते है और उन्हे हर साल Renew भी कराना पड़ता है इसीलिए ताकि अगर Vehicle भविष्य में कही भी Accident हो और जो भी नुकसान होता है Insurance Company उन्हे मरम्मत कराती है ।

इसीलिए दोस्तो अपने परिवार और खुद का Insurance जरूर कराएं ।

क्या लोन ( Loan) लेना सही है ?

Laon दो तरह के होते है –

1 – Good Laon –


अगर आप अच्छे काम के लिए लोन लेते है तो इसमें कोई बुराई नही है जैसे Home Laon , Education Loan

Home Loan का Interest कम होता है और Tax Benefit भी मिलता है घर के Rent से पैसे भी आते है ।

Education Loan भी सही है क्योंकि आप खुद को बेहतर बनाने के लिए लेते है और नए Skill को सीखते है और उसे आप Earning भी करते हो । तो इस Type के लोन अच्छे है ।

2 – Bad Loan –

अगर वहीं कार , Credit Card dues , Personal Loan लेते है तो आप बहुत बड़ी मुसीबत में फस सकते है क्योंकि इनके Interest Rate बहुत जादा होता है । इस तरह के लोन Bad Category में आते है ।

अगर आपने इस तरह के कोई लोन ले रखा है तो उसको सबसे पहले खत्म कीजिए नही तो आपको बहुत जादा Interest Pay करना पड़ सकता है।

अगर आपका मजबूरी है लोन लेना तो आप अपने सैलरी का 20% ही EMI ले ताकि आप उसे आसानी से चुका पाए ।

क्या आपका कोई गोल है जिसे आप पूरा करना चाहते हो ?

आपका गोल कुछ भी हो सकता है जैसे Financial Freedom , या कोई नया Skill सीखने का जिसे आप अच्छा पैसा कमा पाए ।

या फिर Early Age से Investing करना ताकि Retirement के बाद आपके पास 1 करोड़ रुपए हो जाए

या फिर एक नया घर खरीदने का गोल कुछ भी सकता है इसके लिए आपको सबसे पहले खुद को Pay करना होगा । खुदको पे करने का मतलब आपको कोई Skill या Investing सीखना होगा जिसे आप अपने सभी गोल पूरा कर पाए ।

( 50 – 30 – 20 ) का नियम क्या है ?

50 – 30 – 20 का नियम –

50 का मतलब आपको अपने सैलरी का 50% आपको बेसिक Need पर खर्चा करना होता है । जैसे बच्चो का पढ़ाई , घर का राशन आदि ।

30 का मतलब है आपके अपने Salary का 30% आपको अपने ऊपर खर्च करना होता है । आप जो भी उस पैसे से करना चाहते है वो कर सकते है जैसे नए कपड़े , Books, Courses, या फिर दोस्तो के साथ पार्टी कर सकते है ।

20 का मतलब आपको अपने सैलरी का 20% Invest करना है जो Long-term में आपको पैसे कमा कर दे ।

दोस्तो यही है 50 – 30 – 20 का नियम ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *